बाबा रामदेव की पतंजलि ने फिर कहा- हमने ढ़ूढ़ ली है कोरोना की दवा

NEWS

बाबा रामदेव की पतंजलि ने फिर कहा- हमने ढ़ूढ़ ली है कोरोना की दवा

पूरी दुनिया कोरोना से जंग लड़ने में लगी है तब बाबा रामदेव की संस्था पतंजलि आयुर्वेद ने बड़ा दावा किया है. पतंजलि आयुर्वेद ने आज दावा किया है कि उसने कोरोना की दवा ढ़ूढ़ ली है. हजारों मरीजों पर इस आयुर्वेदिक दवा का प्रयोग किया जा चुका है और सारे के सारे मरीज ठीक हो गये हैं. पतंजलि का दावा है कि जिन लोगों ने कोरोना से बचाव के लिए आयुर्वेदिक दवा ली उनके लिए भी ये रामबाण साबित हुई है.

 

आचार्य बालकृष्ण ने किया दावा

 

मीडिया से आज बात करते हुए पतंजलि आयुर्वेद के प्रमुख आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि जैसे कोरोना पूरी दुनिया में फैलने लगा वैसे ही हमने अपने वैज्ञानिकों की पूरी टीम को कोरोना की दवा की खोज में लगा दिया था. हमारी टीम दिन रात काम में लगी थी. हमने रिसर्च की और आयुर्वेद के ऐसी जड़ी बूटियों को ढ़ूढ़ा जिससे कोरोना ठीक हो सकता था.

आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि ऐसी जड़ी बूटियों की पहचान के बाद हमने दवा बनायी और फिर रोगियों पर प्रयोग करना शुरू किया. हमने अपनी दवा को लाखों की संख्या में ऐसे लोगों को दी जो कोरोना के मरीज नहीं थे लेकिन खुद को इस बीमारी से बचाना चाह रहे थे. प्रिवेंशन के तौर पर भी हमारी दवा बेहद कारगर रही.

पतंजलि की दवा से 100 फीसदी मरीज ठीक हो रहे हैं

 

आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि कोरोना के रोगियों पर दवा के प्रयोग में शत प्रतिशत सफलता मिली. जिस भी कोरोना पेशेंट को पतंजलि की दवा दी गयी वो ठीक हो गया. 70 से 80 फीसदी कोरोना मरीज को पतंजलि की दवा खाने के बाद 5-6 दिन में ही निगेटिव हो जा रहे हैं. बाकी के सारे मरीज भी 14 दिनों के अंदर पूरी तरह से ठीक हो गये.

पतंजलि आयुर्वेद के प्रमुख आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि पतंजलि की दवा ऐसे कई मरीजों को दी गयी जो क्रिटिकल कंडीशन में थे. उनमें कोरोना के गंभीर लक्षण थे. हमने उन्हें भी दवा देकर क्लीनिकल स्टडी की. क्लीनिकल केस स्टडी में भी पतंजलि की दवा शत प्रतिशत सही पायी गयी. अब हम कह सकते हैं कि कोरोना की चिकित्सा पूरी तरह से संभव है और वह भी आयुर्वेद के जरिये.

हम दुनिया को सबूत भी देंगे

 

पतंजलि आयुर्वेद के प्रमुख आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि हम जानते हैं कि दुनिया में हमसे सबूत मांगा जायेगा. हमने अपनी दवा को लेकर सबूत तैयार भी शुरू कर दिया है. दुनिया को अपनी दवा का सबूत देने के लिए पतंजलि आयुर्वेद ने क्लीनिकल कंट्रोल ट्रायल भी करना शुरू कर दिया है. उसका डेटा तैयार किया जा रहा है. अगले चार-पांच दिनों में ये सारा काम पूरा हो जायेगा. चार-पांच दिनों के बाद पतंजलि आयुर्वेद पूरी प्रमाणिकता के साथ दुनिया के सामने ये साबित करेगा कि कोरोना का इलाज आयुर्वेद के जरिये पूरी तरह से संभव है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *