लॉकडाउन-4 के गाइडलाइन जारी किए गए, जानिए क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा

NEWS

लॉकडाउन-4 के गाइडलाइन जारी किए गए, जानिए क्या खुलेगा और क्या बंद रहेगा

 

 देश में का 31 मई तक बढ़ाये गए लॉक डाउन को लेकर गृह मंत्रालय ने गाइडलाइन जारी कर दी है. गृह मंत्रालय की तरफ से लॉक डाउन-4 के लिए जो गाइडलाइन जारी की गई है. उसमें फिलहाल छूट का दायरा बहुत ज्यादा नहीं बढ़ाया गया है. स्कूल, कॉलेज, कोचिंग पहले की तरह बंद रहेंगे. साथ ही साथ मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारे और चर्च को भी बंद रखने का फैसला किया गया है. डोमेस्टिक फ्लाइट फिलहाल नहीं चलेंगी

लॉकडाउन-4  में रेस्टोरेंट को होम डिलीवरी करने की इजाजत दी गई है. देश में 31 मई तक लॉकडाउन-4 बढ़ाया गया है. इस अवधि में शाम 4 बजे से सुबह 6:00 बजे तक कर्फ्यू जैसा माहौल रहेगा. गृह मंत्रालय की तरफ से जारी किए गए नए गाइडलाइन में मेट्रो सेवाओं को भी बंद रखने की बात कही गई है. किसी भी तरह के धार्मिक आयोजनों पर भी पूरी तरह से रोक होगी साथ ही साथ हॉटस्पॉट वाले इलाके में शक्ति जारी रहेगी. लॉकडाउन-4 की अवधि में नाइट कर्फ्यू इंपोज्ड रहेगा

किसी भी स्थिति में मॉल शॉपिंग कंपलेक्स और मल्टीप्लेक्स नहीं खुलेंगे. बिना दर्शक वाले स्टेडियम को खोलने की इजाजत दी गई है. बस सेवाओं को आंशिक तौर पर शुरू करने की भी इजाजत दी गई है. सिनेमा हॉल बंद रहेंगे. गृह मंत्रालय ने साफ कर दिया है कि किसी भी परिस्थिति में जिन इलाकों के अंदर संक्रमण के नए मामले सामने आए हैं और जो कंटेनमेंट जोर में है. वहां किसी तरह की कोई छूट नहीं दी जाएगी. साथ ही साथ रेड ग्रीन और ऑरेंज जोन के निर्धारण का अधिकार अब राज्यों को दिया गया है.

पीएम मुख्यमंत्रियों से मांगे थे सुझाव

 

प्रधानमंत्री के साथ पिछले सोमवार को बैठक में तमाम मुख्यमंत्रियों ने लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाने की अपील की थी. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, बंगाल की सीएम ममता बनर्जी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ समेत आधा दर्जन से अधिक मुख्यमंत्रियों ने देश में लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाने का सुझाव दिया था. नए दिशानिर्देश उन राज्यों के सुझावों पर आधारित हैं जो पीएम नरेंद्र मोदी ने 11 तारीख को महामारी पर मुख्यमंत्रियों के साथ पांचवीं चर्चा के दौरान 15 मई तक मांगे थे.

नए नियम

भारत में कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए सबसे पहले 25 मार्च से 14 अप्रैल तक लॉकडाउन की घोषणा की गई थी. इसके बाद 15 अप्रैल से 3 मई तक लॉकडाउन के दूसरे चरण का एलान किया गया. देश में संक्रमण को देखते हुए इसे 17 मई तक बढ़ा दिया गया था. इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में लॉकडाउन-4 के बारे में चर्चा की. उन्होंने कहा था कि 18 मई यानी कि सोमवार से पहले इसके बारे में सरकार की ओर से विस्तृत जानकारी साझा की जाएगी. 18 मई से शुरू होने वाले लॉकडाउन 4.0 को नियमों और दिशानिर्देशों के एक अलग सेट के साथ लागू किया गया है.

 

केंद्रीय कैबिनेट सचिव राज्यों के मुख्य सचिव के साथ करेंगे मीटिंग

 

देश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिए सरकार की ओर से बड़े कदम उठाये जा रहे हैं. देश भर में लॉकडाउन-4 की घोषणा  को लेकर तमाम कयास लगाए जा रहे हैं. इस बीच एक बड़ी जानकारी दिल्ली से मिल रही है. केंद्रीय कैबिनेट सचिव राजीव गौबा आज रात 9 बजे सभी राज्यों के मुख्य सचिव के साथ मीटिंग करेंगे. केंद्र सरकार की ओर से नए नियमों और दिशानिर्देशों के साथ लॉकडाउन को बढ़ाने की घोषणा होने वाली है. रविवार की रात 9 बजे केंद्रीय कैबिनेट सचिव राजीव गौबा सभी राज्यों के मुख्य सचिव के साथ ऑनलाइन वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से बैठक करेंगे. माना जा रहा है कि लॉकडाउन के नए नियम को लेकर राज्य सरकारों के अधिकारियों के साथ बातचीत हो सकती है.

भारत में 90000 से ज्यादा मामले

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 90927 हो गई है. इनमें से 34108 मरीज ठीक हुए हैं और 2872 लोगों की मौत हुई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अभी तक कोरोना वायरस से संक्रमित हुए कुल लोगों में से 37.51 फीसदी ठीक हुए हैं. पिछले 24 घंटे के दौरान 3956 रोगी ठीक हुए हैं. जबकि 3.15 प्रतिशत कोरोना मरीजों ने की जान गई है.  पिछले 24 घंटे के दौरान 120 लोगों की मौत हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *