6 राज्य करना को सबसे पहले मात देंगे

NEWS

6 राज्य करना को सबसे पहले मात देंगे

गुजरात समेत देश के 5 बड़े राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ सबसे पहले कोरोनावायरस की महामारी पर काबू पाने में सफल हो सकते हैं।

यह 6 सूबे 70 फ़ीसदी या इससे अधिक करो ना संक्रमण को खत्म करने में सफल रहे हैं। चिकित्सा विशेषज्ञों का कहना है, कि जैसे ही उनके संक्रमण खत्म करने की दर 90 फ़ीसदी से ऊपर पहुंचेगी यह माना जाएगा कि उनके राज्य में महामारी काबू में आ चुकी है.

वहीं केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ तो इसके काफी करीब पहुंच चुका है, हालांकि विशेषज्ञों के मुताबिक सावधानियां बरतना तब तक जारी रखना होगा जब तक पूरे देश में इस पर नियंत्रण नहीं पा लिया जाता.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरूवार तक के आंकड़ों के अनुसार सबसे ज्यादा चंडीगढ़ में 89 फ़ीसदी संक्रमण ठीक हो चुके हैं. जबकि पंजाब में 81 फ़ीसदी राजस्थान में 76 फ़ीसदी गुजरात में 75 फ़ीसदी मध्यप्रदेश में 73 फ़ीसदी ओडिशा में 70 फ़ीसदी संक्रमण ठीक हो चुके हैं। इनमें स्वस्थ हो चुके और मर चुके लोगों की संख्या शामिल है।

ज्यादा सक्रिय लोग तो खतरा भी ज्यादा

वर्धमान महावीर मेडिकल कॉलेज के कम्युनिटी मेडिसिन विभाग के निदेशक प्रोफेसर जुगल किशोर के अनुसार कोरोनावायरस महामारी के जितने ज्यादा सक्रिय रोग होते हैं उतना ही संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा रहता है। जियो जियो जियो सक्रिय रोगियों की संख्या कम होगी फैलाव भी कम होता जाएगा। जिन राज्यों में सक्रिय रोगियों की संख्या  घट रही है उनमें सबसे पहले

तीन राज्यों में तेजी से फैला था संक्रमण

जो छह राज महामारी पर काबू पाने में जुटे हैं उनमें से 3 गुजरात मध्यप्रदेश और राजस्थान ऐसे हैं जहां तेजी से करोना पहला था। अप्रैल महीने में यह राय जी करुणा शंकर में सिर्फ पांच छह राज्यों में शुमार हो गए थे। इन राज्यों में 10 से 20 के बीच संक्रमण हुए हैं। लेकिन बेहतर प्रबंध के चलते यह राज काफी हद तक उससे कम करने में सफल रहे हैं. जिसके चलते यह राज करो ना मुक्त हो सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *